अध्यात्म

द्रोपती ने बताई थी महिलाओं के बारे में कुछ खाश बाते, महिलायें भूलकर भी न करे यह काम

किसी भी घर-गृहस्थी को चलाने में महिला की भूमिका सबसे अहम होती है। शुद्ध आचरण और चरित्र वाली महिला अपने सदगुणों की महक से घर-परिवार की बगिया को महकाती है। एक परिवार में सुख, शांति का माहौल कैसे बना रहे इसके लिए द्रौपदी ने महाभारत में सत्यभामा को कुछ खास बातें बताई थी। अगर ये बाते और काम महिलाये अपने घर ना करे तो घर सदैव स्वर्ग के समान सुंदर बना रहता है।

आइये जानते है द्रोपती ने महिलाओं के बारे में कौन सी प्रमुख बाते बताई थी। ये हैं मुख्य बातें, जो सुहागन महिलाओं को नही करनी चाहिए।

1. द्रौपदी सत्यभामा को बताती हैं कि मैंने शादी के बाद सबसे पहले अपने पांडव परिवार के सभी रिश्तों की जानकारी प्राप्त की। ससुराल के सभी रिश्तों की पूरी जानकारी होनी चाहिए। एक भी रिश्ता चूकना नही चाहिए। अगर हमे सभी रिश्तो के बारे में अच्छी तरह से जान पहचान होगी तो हम भविष्य में किसी भी रिश्ते को लेकर लापरवाह नही होंगे और सभी का अच्छी तरह आदर सत्कार कर सकेंगे।

2. सदा वही बात करें जिससे किसी को खुशी मिले। जिससे किसी का अपमान हो या उसे दुख मिले ऐसी बात नहीं करनी चहिए। ऐसा करना किसी भी रिश्ते के लिए अपमान का कारण बन सकता और हमारा रिश्ता कमजोर बनता है।

3. बहुत सारी महिलाएं तंत्र-मंत्र, औषधि आदि के द्वारा पति को वश में करने का प्रयत्न करती हैं ऐसा न करें। पति को ये बात पता चल जाए तो वैवाहिक संबंध तो खराब होते ही है साथ ही बुरे काम का बुरा फल ही प्राप्त होता है। इसलिए इस तरह की गलतियों से अपने आपको दूर रखे।

4. हमारे सभ्य समाज में महिलाए घर की लोक लाज और सभ्यता की पहचान होती है। ऐसे में अनजाने लोगों से बातचीत करना अच्छा नही होता। इसलिए सावधानी रखे।

5. जो महिलाये समझदार होती है उन्हें पता होता है की ससुराल में कैसे अपने पति के अलावा बाकि ससुराल वालो के साथ व्यवहार बनाये रखना है और उनके साथ ऐसे अच्छे आचरण से मेल भाव बढ़ाना है। महिला को चाहिए की कभी भी अपने ससुराल के किसी भी सदस्य की निंदा न करे। ऐसा करना हितकर नही होता और ऐसा करने से उसकी शान और सभ्यता में कमी आती है।

6. सुखी दांपत्य जीवन को बनाए रखने के लिए महिलाओं को बुरे आचरण वाली और चरित्रहीन महिलाओं का संग नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से उनकी गृहस्थी में समस्याएं आती है। इसलिए अपना आचरण हमेशसाफ रखे और किसी अनजान से मेलजोल ना बढ़ाए।

7. किसी भी काम में आलस्य नहीं करना चाहिए। बिना समय गंवाए जो भी काम हो उसे पूरा कर लेना चाहिए। अपने काम में दक्ष पत्नी सदा पति की प्रिय बन कर रहती है। और सभी काम समय पर करने से घर में कभी भी अन्न और धन की कमी नही रहती।

8. महिलाओं का दरवाजे पर खड़े रहना या खिड़की से झांकते रहना अच्छा नहीं होता समाज में उनको हेय दृष्टि से देखा जाता है। और सदाचार की दृष्टि से भी इस तरह देखना सरासर गलत है। इसलिए इन छोटी छोटी बातों का अवश्य ध्यान रखे।

अगर आपको ये जानकारी पसंद आई हो तो लाइक और शेयर जरुर करे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button