घरेलू-नुस्खेस्वास्थ्य

Baby Care Tips In Hindi : बेबी की देखभाल के दौरान भूलकर भी न करे ये गलतियां, जानिए देखभाल के आसान टिप्स

Indian News Room Health Desk : Baby Care Tips In Hindi जैसा की आपको पता हैं की ज़िंदगी की इस भाग दौड़ में हम अपना ख्याल रखना बिलकुल भूल गए है। हालाँकि ऐसा करना हमारे लिये खतरनाक साबित होता जा रहा है। जिस तरह एक गर्भवती महिला को अपना पूरा ख्याल रखना जरुरी होता है। उसी प्रकार हमे अपने नवजात बच्चे की केयर करनी जरुरी होती है। नवजात बच्चा अपने आप से कुछ भी करने में असक्षम होता है। उसके मानसिक और शारीरिक विकास के लिए हमे उसके ऊपर ध्यान देने की सख्त जरुरत होती है ताकि वह भविष्य में सुखमय जीवन यापन कर सके और कोई भी बीमारी उसको न हो।

Baby Care Tips Hindi

तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसी ही जरुरी टिप्स बताते है, जो आपके लिए मददगार साबित होंगी। जिन्हे अपनाकर आप अपने बच्चे को हेल्थी रख सकते है।

Baby Care Tips In Hindi

बच्चे को रोज नहलाए ( Baby Bath) :

साफ सफाई का हमारे जीवन में एक अलग ही महत्व है। इसलिए रोजाना अपने बच्चे को जरूर नहलाए। छोटे बच्चों में त्वचा संक्रमण का खतरा सबसे अधिक होता है। नहाने से काफी हद तक यह खतरा टल जाता है। और उसके शरीर से दुर्गन्ध भी हट जाती है। नहाने के बाद बच्चे की बेबी आयल से हलके हाथ से मालिश जरूर करे। और अपने बच्चे को प्रतिदिन सुबह के समय, कुछ समय के लिए धुप में लेकर जरूर बैठे ताकि उसे पर्याप्त विटामिन डी मिल सके जो उसकी हड्डियों को मजबूत रखने में सहायक होगा।

नवजात शिशु की मालिश करते वक्त ध्यान रखने योग्‍य बातें : Baby Care Tips In Hindi

मसाज और नहलाने का समय :

Baby Care Tips Hindi

अक्सर हम बच्चे की मालिश के टाइम का चुनाव ही गलत करते है और बच्चा बीमार हो जाता है। इसलिए कोसिस करे की बच्‍चे को ऐसे समय पर नहलाएं, जब उसे सर्दी पकड़ने का खतरा न हो। गर्मी के समय में तो थोड़ा लेट भी चलेगा। लेकिन सर्दी के टाइम में जब धुप निकल जाए उसी समय बच्‍चे को नहलाना उचित रहता है। जब आपका बच्चा पूरी तरह आराम कर चूका हो उस समय पर मालिश करना ज्यादा हितकर रहता है। दिन के समय में जब आपका बच्चा 2-3 बार दूध पी चूका हो उसके बाद आप उसकी मालिश कर सकते है लेकिन दूध पिलाने के 30-40 मिनट के बाद ही मालिश करे।

मालिश के तुरंत बाद बच्चे को न नहलाए :

कभी भी अपने बच्चे को ठन्डे पानी से न नहलाए। मालिश करने और नहलाने में कम से कम 30 मिनट का अंतराल अवश्ये रखे। क्यूंकि मसाज के बाद बच्चे का शरीर गर्म हो जाता है। इसलिए हमेशा गुनगुने पानी का इस्तेमाल करे। ठन्डे पानी से बच्चे का तापमान तुरंत गिर जाता है और बीमार होने का खतरा रहता है।

हल्‍के हाथों से मालिश करें : Baby Care Tips In Hindi

कभी भी ज्यादा रगड़कर मालिश न करे। हमेशा हलके हाथो से अपने बच्चे की मालिश करे। क्योंकि नवजात बच्चे की स्किन बहुत ही मुलायम होती है। ज्यादा तनाव डालने से या रगड़ने से छील सकती है। इस बात का ध्यान अवश्य रखे की आयल या लोशन बच्चे के कान, आँख या मुँह में न चला जाए। अगर ऐसा हो भी जाये तो तुरंत बच्चे को उलटी करवा दे। ताकि अंदर गया हुआ तेल या लोशन बाहर निकल सके। आप बच्‍चे के पूरे शरीर, हाथ-पैरों से लेकर पेट-पीठ और चेहरे की मसाज भी करें।

गुनगुने तेल का प्रयोग :

Baby Care Tips Hindi

जब भी आप बच्चे की मालिश करे तो ठन्डे की बजाय गुनगुने तेल का प्रयोग करे। इस बात का भी ध्यान रखे की आप जो भी तेल या लोशन इस्तेमाल में ले रहे हो वो ज्यादा खुसबूदार न हो। मालिश के लिए तेल या लोशन का चुनाव करने से पहले एक बार डॉ की सलाह अवश्य ले लेनी चाहिए। हमेशा अच्छी क्वालिटी का प्रोडक्ट इस्तेमाल करे क्योंकि सस्ते और घटिया प्रोडक्ट आपके बच्चे की स्किन को नुक्सान पहुंचा सकते है।

यह भी पढ़े : दिल को स्वस्थ रखना है तो अपनाएं ये 5 आसान तरीके

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button